BREAKING NEWS

< >
PREV ARTICLE

परमाणु ऊर्जा के लिए महत्वपूर्ण होगी प्रधानमंत्री की रूस यात्रा

NEXT ARTICLE

भारत को मिला अपना जीपीएस

दिल्ली मेट्रो में महिलाओ के लिए कोच बढ़ेंगे

Published: 2015-12-28 06:26 PM IST

 

नई दिल्ली, 28 दिसम्बर   महिला एवं बाल विकास मंत्रालय दिल्ली मेट्रो में महिला यात्रियों के लिए एक से ज्यादा कोच आरक्षित करने की मांग करने जा रहा है। दिल्ली मेट्रो में लगातार बढ़ती भीढ़ को देखते हुए केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी डीएमआरसी को यह सुझाव देंगी।

इस सिलसिले में महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी डीएमआरसी प्रमुख को एक पत्र भेजने वाली हैं। फिलहाल मेट्रो में सबसे आगे का डिब्बा महिलाओं के लिए आरक्षित होता है। मंत्रालय का मानना है कि इससे बहुत कम संख्या में ही महिलाएं आरक्षित डिब्बे का फायदा उठा पाती हैं। दिल्ली मेट्रो में लगातार बढ़ती भीढ़ को देखते हुए मेनका यह भी सुझाव देंगी कि दिल्ली मेट्रो में महिला कोच शुरू या आखिरी में होने के बजाए बीच में रखा जाना चाहिए।

जानकारी हो कि इस साल करीब 3000 से अधिक पुरुष यात्रियों को महिला कोच में सफर करते हुए पकड़ा गया। सूत्रों के मुताबिक मेनका गांधी डीएमआरसी प्रमुख को भेजे गए अपने पत्र में महिलाओं के लिए मेट्रो के 3 डिब्बे आरक्षित करने की मांग करेंगी। मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक जिस मेट्रो में 8 कोच होते है, उनमें महिलाओं के लिए 3 कोच आरक्षित करने में कोई दिक्कत नहीं होगी, लेकिन जिस मेट्रो में केवल 6 कोच होते हैं उनमें 3 की जगह, केवल 2 कोच ही महिलाओं के लिए आरक्षित किए जा सकते हैं।

अधिकारी के मुताबिक कई महिलाओं, खासतौर पर बुजुर्ग महिलाओं ने शिकायत की है कि मेट्रो का सबसे आगे वाला कोच आरक्षित होने के कारण वह उसका फायदा नहीं उठा पाती हैं। महिलाओं ने शिकायत की है कि कई बार वह मेट्रो पकड़ने की जल्दी में होती हैं। ऐसे में सबसे आगे के डिब्बे तक पहुंच पाने का या तो समय नहीं होता या फिर भीड़ के कारण वे आगे के आरक्षित डिब्बे तक पहुंच नहीं पाती हैं। साथ ही, सीढ़ी या स्वचालित सीढ़ी से प्लैटफॉर्म पहुंचने पर भी आगे का आरक्षित डिब्बा काफी दूर पड़ता है। वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि अगर किसी मेट्रो में कोचों की संख्या कम है तो उसमें महिलाओं के लिए सबसे आगे का कोच आरक्षित करने की जगह, यह व्यवस्था बीच के किसी कोच में की जा सकती है।

STAY IN TOUCH!

LATEST NEWS